लोकसभा चुनाव से ठीक पहले वाराणसी के इस मुस्लिम परिवार ने पीएम मोदी को कहा शुक्रिया

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले वाराणसी के इस मुस्लिम परिवार ने पीएम मोदी को कहा शुक्रिया

वाराणसी 

लोकसभा चुनाव के ठीक पहले नया पानदरीबा के रहने वाले नसीम के परिवार पीएम मोदी को धन्यवाद कहा है। नसीम के परिवार ने लोकतंत्र के महापर्व में शामिल होने को लेकर ऐसा किया है।

दरसल नसीम की दो बेटियां निदा और माहेरूफ पाकिस्तान के करांची में जन्मी है और उनको भारत की नागरिकता नहीं मिली थी। पिता ने कहा बेटियों की शादी में अड़चने आ रही थी। भारतीय होकर भी वे लोग परेशान थे। 

नसीम की शादी नवम्बर 1989 को करांची की शाहीन से हुई। बड़ी बेटी निदा का जन्म  अप्रैल 1992 में और छोटी बेटी माहेरूफ का जन्म जनवरी 1995 में करांची में ही हुआ।1995 के बाद पत्नी प्रॉपर बनारस ही रहने लगी। काफी सालो में पत्नी की नागरिकता के लिए अप्लाई किया तो 2007 में उसे भारत की नागरिकता मिल गयी। 

नसीम आगे कहते हैं कि मुझे लगा था कि मैं भारतीय हूँ ,तो पत्नी को कुछ फार्मेलटी के बाद नागरिकता मिल जाएगी।2007 में दोनो बेटियों के लिए भारतीय नागरिकता के लिए अप्लाई किया। 2017 में दोनो बेटियां ही पीएम मोदी के रविंद्रपुरी स्थित जनसंपर्क कार्यालय पहुंची और सारी फार्मेलटीज की फाइलों को वहां जमा किया। उन्होने कहा कि इसी कार्यालय से एम्बेसी और गृह मंत्रालय को संपर्क किया गया।

23 मार्च 2019 को दोनो बेटियों को 12 साल बाद और जनसंपर्क कार्यालय की वजह से 2 साल के भीतर नागरिकता मिल गयी। जिला प्रशासन की ओर से बुलाकर सर्टिफिकेट दिया गया। अब दोनों बच्चियों के नाम वोटर लिस्ट में आ गया। मां शाहीन ने बताया कि 2007 से 12 सालो से हम भटक रहे थे। अल्ला का शुक्र है कि बेटियों को भारतीय नागरिकता मिल गई। पीएम मोदी को दिल से धन्यवाद है।

Related News
गाजीपुर : अफजाल अंसारी ने मनवाई अपनी बात, कुल पांच लोग करेंगे ईवीएम की निगरानी
गाजीपुर : ईवीएम बदलने की खबर के बाद धरने पर बैठे अफजल अंसारी
वाराणसी : ओम प्रकाश राजभर जैसे लोगों के साथ ऐसा ही होना चाहिए : अनिल राजभर
वाराणसी : भूत के चक्कर में पति पत्नी में हुई लड़ाई, पति ने की पत्नी की हत्या
वाराणसी : मतदान की तैयारियों को लेकर मंडलायुक्त ने कही यह बात
वाराणसी में मतदान कल, आज रवाना होंगी पोलिंग पार्टियां