नवरात्र के आठवें दिन महागौरी की पूजा करने से मिलती है कष्टों से मुक्ति

नवरात्र के आठवें दिन महागौरी की पूजा करने से मिलती है कष्टों से मुक्ति

नवरात्र के आठवें दिन देवी महागौरी की पूजा-अर्चना की जाती है। इस दिन को महाअष्टमी भी कहा जाता है। मान्यता है कि नवरात्र के आठवें दिन महागौरी की पूजा करने से आर्थिक कष्ट दूर होते हैं और दुख-दरिद्रता मिट जाती है।

ऐसी मान्यता है कि माता शैलपुत्री 16 वर्ष की अवस्था में अत्यंत्र सुंदर और गौर वर्ण की थीं। अत्यंत गौर वर्ण के कारण ही माता का नाम महागौरी पड़ा। माता महागौरी भी माता शैलपुत्री की तरह ही बैल पर सवार रहती हैं, इसलिए इनको वृषारूढ़ा भी कहा जाता है।

Related News
शरद पूर्णिमा के दिन इस काम को करने से बढ़ती है आँखों की रौशनी
वाराणसी : शरद पूर्णिमा आज, गंगा तट पर उमड़ा श्रद्धालुओं का रेला
मन की शांति के लिए ऐसे करें पूजा
आज है नवरात्र का अंतिम दिन, इस दिन की जाती है देवी सिद्धिदात्री की पूजा
इस खास वजह से आज के दिन किया जाता है कन्‍या पूजन
नवरात्र के आठवें दिन महागौरी की पूजा करने से मिलती है कष्टों से मुक्ति