वाराणसी: चीन का पुतला फूंककर जताया विरोध, चीनी सामान के बहिष्कार की खायी गयी कसमें

वाराणसी: चीन का पुतला फूंककर जताया विरोध, चीनी सामान के बहिष्कार की खायी गयी कसमें

वाराणसी। चीनी सैनिकों के घुसपैठ और भारतीय सैनिकों की शहादत से नाराज विशाल भारत संस्थान के सामाजिक कार्यकर्ताओं और बच्चों ने इन्द्रेश नगर लमही के सुभाष भवन के सामने चीन का पुतला फूंककर आक्रोश जताया। दीपावली पर सजने वाले चीनी झालर को भी आग के हवाले कर दिया गया। सभी ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की कसम खायी कि हम चीन के सामान का पूर्ण बहिष्कार करेंगे।


चीन के सैनिकों की हिमाकत से नाराज महिलाओं ने पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया। पोस्टर पर लिखा था- ‘धोखेबाज चीन मुर्दाबाद।‘, ‘हर भारतीय का प्रतिकार, सामान सहित चीन का बहिष्कार’, ‘चीन का पूरा हिसाब किया जायेगा, अब चीन को पक्का जवाब दिया जायेगा’, ‘शहीदों की शहादत बेकार नहीं होगी, चीन की घुसपैठ स्वीकार नहीं होगी’, ‘चीन समर्थकों भारत छोड़ो’, ‘भारत की हर महिला है तैयार, करेगी चीनी सामानों का बहिष्कार’ ।

इस अवसर पर विशाल भारत संस्थान के संस्थापक अध्यक्ष डा० राजीव श्रीवास्तव ने कहा कि भारत की महिलायें घर-गृहस्थी चलाती भी हैं और घर में प्रयोग होने वाले सामानों पर फैसला भी लेती हैं। महिलाओं ने तय किया कि घर की रसोई में, घर में कोई भी सामान चीन का बना हुआ इस्तेमाल नहीं करेंगे। यदि कोई सामान है तो उसकी होली जला देंगे। चीन का पूर्ण बहिष्कार किया जायेगा। चीन को सबक सिखाने के लिये हर हिन्दुस्तानी तैयार है। हम पीछे नहीं हटेंगे और न ही शांति-शांति चिल्लाकर सीमा को खोयेंगे।

मुस्लिम महिला फाउण्डेशन की नेशनल सदर नाजनीन अंसारी ने कहा कि चीन की चालों को बेनकाब करेंगे। सांप छूछूंदर खाने वाले हमारे भारतीय सैनिकों के मनोबल से नहीं टकरा पायेंगे। इस बार चीन की औकात पता चलेगी।


Related News
काशी से चलकर साइकिल रैली पहुंची प्रयागराज
काशी से प्रयागराज रवाना हुई सीआरपीएफ की साइकिल रैली
साइकिल रैली पहुंची काशी, हुआ भव्य स्वागत
केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कमांडेंट को मिला वीरता सम्मान
राष्ट्रीय खेल प्राधिकरण साईं बीएचयू कैंपस ने मनाया राष्ट्रीय खेल दिवस
निशुल्क प्रसुति एवं स्त्री रोग परामर्श शिविर का अयोजन