योगी आदित्यनाथ ने ओमप्रकाश राजभर के सभी विभाग मंत्री अनिल राजभर को सौंपा

योगी आदित्यनाथ ने ओमप्रकाश राजभर के सभी विभाग मंत्री अनिल राजभर को सौंपा

लखनऊ 

लोकसभा चुनाव खत्म होते ही अब बीजेपी और सुहेलदेव भारतीय समज पार्टी (सुभासपा) का नाता सोमवार को पूरी तरह से खत्म हो गया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सिफ़ारिश पर राज्यपाल राम नाईक ने सोमवार को ही ओमप्रकाश राजभर समेत उनके सभी नेताओं का मंत्री पद का दर्जा भी वापस ले लिया है।

ओमप्रकाश राजभर को बर्खास्त करने के बाद उनके सभी विभाग को मंत्री अनिल राजभर को दिया गया है। जिसकी वजह से अनिल राजभर का कद बढ़ गया है। मालूम हो कि सोमवार को ही वाराणसी में पत्रकारों से बातचीत के दौरान अनिल राजभर ने कहा था कि काफी दिनों से ओम प्रकाश राजभर अपने पॉकेट में इस्‍तीफा लेकर घूमने की बात कहते रहे हैं, लिहाजा सरकार ने उनके मन की मुराद पूरी कर दी है। अनिल राजभर ने ये भी कहा कि ओम प्रकाश राजभर बीजेपी के बड़प्‍पन का नाजायज फायदा उठा रहे थे और उनके जैसे लोगों के साथ ऐसा ही होना चाहिए। 

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के गठन के बाद मंत्रिमंडल से यह पहली बर्खास्तगी है। मंत्री बनने के डेढ़ माह बाद से ही राजभर ने सरकार के विरोध में स्वर मुखर किया तो फिर यह सिलसिला कभी थमा नहीं। राजभर ने तो शुरुआत में ही चेतावनी दी थी कि गाजीपुर के डीएम को हटाया जाए अन्यथा वह मंत्री पद छोड़ देंगे। हालांकि सीएम योगी ने उनकी बात को अनसुना कर दिया था। 

Related News
अयोध्या के भगवान रामलला नाबालिग हैं, नहीं छीन सकते उनकी संपत्ति: वकील
योगी मंत्रिमंडल विस्तार : इन दो नए चेहरों को मिली जगह
योगी मंत्रिमंडल का पहला विस्‍तार आज, गांधी ऑडिटोरियम में शपथ दिलाई जाएगी
समाजवादी पार्टी को लगा तगड़ा झटका, भाजपा शामिल हुए ये दिग्गज
उत्तर प्रदेश : अखिलेश यादव ने भाजपा पर साधा निशाना, लगाए कई आरोप
उत्तर प्रदेश : आजम खान को एक और मुसीबत, 'हमसफर' पर चला जिला प्रशासन का बुलडोजर