रेड सिंगनल पर न फंसे एम्बुलेंस इंजीनियरिंग के छात्रों ने बनाया खिलौने से मात्र 1000 रुपये में डिवाइस,ऑटोमैटिक रेंज में आते हो जाएगा ग्रीन सिग्नल

रेड सिंगनल पर न फंसे एम्बुलेंस इंजीनियरिंग के छात्रों ने बनाया खिलौने से मात्र 1000 रुपये में डिवाइस,ऑटोमैटिक रेंज में आते हो जाएगा ग्रीन सिग्नल

वाराणसी।अशोका इंस्टिट्यूट के छात्रों ने बनाया मात्र 1000 रुपए में खिलौने से (स्मार्ट एम्बुलेंस)डिवाइस बनाया है।अक्सर ट्रैफिक जाम में एम्बुलेंस के फसने से मरीज की हालत बिगड़ जाती है।कभी कभी तो अस्पताल सही समय से न पहुंचने पर मृत्य भी हो जाती है।लालबत्ती पर बहुत बड़ी समस्या होती है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग फोर्थ ईयर के छात्र तुषार तिवारी,  आशीष मौर्या,सौरभ कुशवाहा ने इसे मिलकर 12 से 15 दिनों में बनाया है।

छात्रों ने बताया कि  ट्रैफिक सिग्नल पर रेड सिग्नल होने पर  एम्बुलेंस में कई मरीजों की जान चली जाती है ऐसे में हमारा (स्मार्ट एम्बुलेंस ) डिवाइस रेड  सिग्नल  होने पर इमरजेंसी में  ट्रैफिक  के रेड  सिग्नल को ऑटोमेटिक ग्रीन कर देता है lजिससे एम्बुलेंस समय रहते पेसेंट को लेकर हॉस्पिटल पहुंच सकता है और मरीज की जान बचा सकता  है l 

इस डिवाइस को आरएफ रेडियों  फ्रीक्वेंसी ट्रांसमीटर रिसिवर के बेस पर काम करता है। ट्रांसमीटर को हम ट्रेफिक लाइट से कनेक्ट कर देते है l और रिसिवर सर्किट को हम एम्बुलेंस में लगा दिएहै।

निर्धारित रेंज (दूरी)में आते ही  एम्बुलेंस में लगा रिसिवर ट्रेफिक सिग्नल में लगे ट्रांसमीटर को इमरजेंसी सिग्नल देता है ,जिस्से ट्रेफिक सिग्नल अगर रेड होतो सिग्नल  ग्रीन हो जाता। 

इसमें हमने  (1) 9 वोल्ट ऑपरेटेड ट्रांसमीटर रिसिवर सर्किट,  RF Module – 433 Mhz RF Transmitter and Receiver Module  जिसका का रेंज तकरिबन 10 से 20 मीटर है। जिसे कम या ज्यादा किया जा सकता है।(2) ग्रीन रेड  सिग्नल  लाइट,  (3) मॉडल की हाईट  2 फ़िट, (4)  5वोल्ट का रिले लगा है।खिलौने का पार्ट ज्यादा इस्तेमाल हुआ है।

डायरेक्टर सारिका श्रीवास्तव ने बताया कि एक सोच है।अभी बहुत प्राइमरी लेबल पर है।लेकिन इसको बड़े लेबल पर किया जाए तो बहुत कारगर साबित होगा।जो हर किसी के लिए उपयोगी और लोगो की जान बच सकेगी।


Related News
काशी से चलकर साइकिल रैली पहुंची प्रयागराज
काशी से प्रयागराज रवाना हुई सीआरपीएफ की साइकिल रैली
साइकिल रैली पहुंची काशी, हुआ भव्य स्वागत
केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कमांडेंट को मिला वीरता सम्मान
राष्ट्रीय खेल प्राधिकरण साईं बीएचयू कैंपस ने मनाया राष्ट्रीय खेल दिवस
निशुल्क प्रसुति एवं स्त्री रोग परामर्श शिविर का अयोजन