बाबा रामदेव के कोरोना की दवा के विज्ञापन पर आयुष मंत्रालय ने लगायी रोक

बाबा रामदेव के कोरोना की दवा के विज्ञापन पर आयुष मंत्रालय ने लगायी रोक

नई दिल्ली। दुनिया के सारे देश कोरोना की दवा के रिसर्च में लगे हैं। अभी तक किसी भी देश को कोरोना वायरस के खिलाफ विश्वसनीय दवाई बनाने में सफलता नहीं मिली है।  इस बीच योग गुरु रामदेव ने मंगलवार को कोरोना के खिलाफ कारगर दवाई बनाने का दावा किया है। बाबा रामदेव का कहना है कि कोरोनिल टेबलेट से कोरोना के मरीज को ठीक किया जा सकता है। उनका कहना है कि उनकी दवाई से सात दिन के अंदर 100 फीसदी रोगी रिकवर हो गए। 'कोरोनिल दवा' का सौ फीसदी रिकवरी रेट है और शून्य फीसदी डेथ रेट है। यह खबर देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिए राहत देने वाली थी।  परंतु वहीँ भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले आयुष मंत्रालय ने बाबा रामदेव द्वारा आज लांच की गई कोरोना की दवा का विज्ञापन करने पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। आयुष मंत्रालय ने रामदेव से कहा है कि वो अपने दावों के समर्थन में तथ्य पेश करें।

Related News
आयुर्वेद के अनुसार हर दिन बादाम खाने के फायदे
टेक्नो ने हाइपॉड्स H2 लॉन्‍च कर ट्रू वायरलेस के क्षेत्र में रखा कदम, कनेक्‍टेड डिवाइस इकोसिस्‍टम बनाने का है लक्ष्‍य
ओरिएंट इलेक्ट्रिक ने यूवी सैनिटेक लॉन्च किया, जो कोरोना वायरस को मारता है
रेंज रोवर है दुनिया की सबसे डिजाएरेबल एसयूवी
टाटा स्काई के नए होम स्क्रीन के साथ टीवी पर आसानी से खोजें ट्रेंडिंग कंटेंट
बाबा रामदेव के कोरोना की दवा के विज्ञापन पर आयुष मंत्रालय ने लगायी रोक