ऊबर राईड्स को सुरक्षित बनाने के लिए 20,000 कारों में इन्सटॉल करेगा सेफ्टी 'कॉकपिट्स'

ऊबर राईड्स को सुरक्षित बनाने के लिए 20,000 कारों में इन्सटॉल करेगा सेफ्टी 'कॉकपिट्स'

नई दिल्ली।ऊबर ने 'न्यू नॉर्मल' के इस दौर में अपने राइडर्स एवं ड्राइवर्स की सुरक्षा केनए मानक स्थापित करने के लिए 20,000 प्रीमियर सेडान कारों में सेफ्टी स्क्रीन या सेफ्टी 'कॉकपिट्स'इन्सटॉल करने की घोषणा की है।


ऊबर, जो भारत में फ्रंटलाईन स्वास्थ्यकर्मियों के परिवहन में मदद करने हेतु ऊबरमेडिक कारों में सेफ्टीकॉकपिट इन्सटॉल करने में अग्रणी रहा है, 8000 कारों में इस तरह के कॉकपिट फिट कर चुका है। इसकी लागत का भारवहन ऊबर द्वारा किया जा रहा है और उसे ड्राइवरों को निःशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके अलावा अन्य प्रोडक्ट कैटेगरीज़ में बड़े पैमाने पर तुरंत ये सेफ्टी कॉकपिट लगाए जा रहे हैं।

सेफ्टी कॉकपिट, एक आधुनिक एवं सुरक्षात्मक पारदर्शी प्लास्टिक स्क्रीन होती है, जिसे यात्री और ड्राइवर के बीच कार में छत से फर्श तक लगाया जाता है। यह कार के अंदर सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करती है। इसके अलावा, ड्रॉपलेट एवं एरोसोल संचरण को रोकने के लिए सुरक्षात्मक परत की भूमिका निभाती है।

इस लॉन्च के अवसर पर पवन वैश, हैड ऑफ सेंट्रल ऑपरेशन्स, ऊबर इण्डिया एवं साउथ एशिया ने कहा, "ऊबर में हम परिवहन के सुरक्षित मानकों को सुनिश्चित करने के लिए निरंतर काम करते रहे हैं और राइडर्स एवं ड्राइवर्स की सुरक्षा के लिए हर संभव ऐहतियात बरतते हैं। भारतीय बाज़ार में सेफ्टी कॉकपिट में अग्रणी स्थिति स्थापित करने के बाद, ऊबर टीम अपनी आधुनिक टेक्नोलॉजी एवं विश्वस्तरीय विशेषज्ञता का इस्तेमाल कर ड्राइवर्स एवं राइडर्स को निरंतर सर्वश्रेष्ठ अनुभव प्रदान करने के लिए प्रयासरत है।"


70 दक्षिण एशियाई शहरों में अपनी सेवाएं फिर से शुरू करने के बाद से, ऊबर अपने प्लेटफॉर्म पर सक्रिय सभी ड्राइवरों को सुरक्षात्मक उपकरणों एवं हाइजीनिक उत्पादों का वितरण कर रहा है। ऊबर टीम ने ड्राइवरों के लिए मास्क, हैण्ड सैनिटाइजर और मेडिकल ग्रेड के व्हीकल डिस्इन्फेक्न्ट जैसे उत्पादों की सोसिंग, खरीद एवं वितरण को तकरीबन दोगुना कर लिया है।


दुनिया भर में, ऊबर ने 50 मिलियन डॉलर मूल्य की सुरक्षात्मक सामग्री खरीदी है। इसके तहत ऊबर ने मोटो राइडर्स के लिए 3 मिलियन फेस मास्क, 1.2 मिलियन शॉवर कैप तथा देश भर में अपने ड्राइवर्स पार्टनर्स में निःशुल्क वितरण हेतु 200,000 बोतलें डिसइन्फेक्टेन्ट एवं 200,000 बोतलें सेनिटाइजर की खरीदी कि हैं।


सुरक्षात्मक उपकरणों के वितरण के अलावा, सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए कई पहलों की शुरूआत की है जैसे गो ऑनलाईन चैकलिस्ट, ड्राइवर्स और राइडर्स के लिए अनिवार्य रूप से मास्क पहनना, ड्राइवरों के लिए ट्रिप से पहले मास्क वैरिफिकेशन सेल्फी, ड्राइवरों का प्रशिक्षण, कोविड-19 संबंधी सुरक्षा प्रोटोकॉल्स के मद्देनज़र ड्राइवर का अनिवार्य प्रशिक्षण तथा ड्राइवर एवं राइडर के लिए अपडेटेड कैन्सिलेशन पॉलिसी, अगर वे राईड को लेकर सुरक्षित महसूस न करें।

Related News
सरकार के ‘स्किल इंडिया मिशन’ के तहत गोवा में ‘इन्टरनेशनल स्किल हब’ स्थापित किया जाएगा
साइकिल प्योर अगरबत्ती के निर्माता एन रंगा राव एंड संस एवं असम सरकार अगरबत्ती निर्माण के लिए बांस विकास परियोजना में सहयोगी बने
ऊबर राईड्स को सुरक्षित बनाने के लिए 20,000 कारों में इन्सटॉल करेगा सेफ्टी 'कॉकपिट्स'
भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 लाख के पार, राहुल गांधी का बयान 10 अगस्त तक 20 लाख होंगे मरीज
दुनिया की कोई ताकत नहीं छीन सकती एक इंच भी जमीन, रक्षा मंत्री का चीन को कड़ा संदेश
एनएसडीसी और माइक्रोसॉफ्ट ने डिजिटल कौशल के साथ युवाओं को सशक्त बनाने के लिए मिलाया हाथ