तेज बहादुर नहीं लड़ पाएंगे वाराणसी से चुनाव, नामांकन हुआ रद्द

तेज बहादुर नहीं लड़ पाएंगे वाराणसी से चुनाव, नामांकन हुआ रद्द

वाराणसी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से समाजवादी पार्टी के सिंबल पर नामांकन करने वाले बीएसएफ़ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर के नामांकन पत्र को जिला निर्वाचन अधिकारी ने रद्द कर दिया है। तेज बहादुर यादव अब वाराणसी से प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने चुनाव आयोग से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के लिए आज 11 बजे तक का समय दिया था। तेज बहादुर यादव के अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत ना कर पाने पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने उनका नामांकन निरस्त कर दिया।  इस विषय में तेज बहादुर यादव का कहना है कि नामांकन के वक्त उनसे इस तरह के किसी भी प्रमाण पत्र की मांग नहीं की गयी। यदि मेरे नामांकन फार्म में किसी भी तरह की कमी थी तो मुझे उसी वक्त बताना चाहिए था। इस से यह बात साफ दिख रही है की प्रधानमंत्री मोदी जी का निर्वाचन कार्यालय पर दबाव है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह नहीं चाहते कि मैं यहाँ से उन के खिलाफ चुनाव लड़ूँ।

गौरतलब है कि तेज बहादुर यादव ने 24 अप्रैल को पहले निर्दल और 29 अप्रैल को समाजवादी पार्टी के सिंबल पर नामांकन किया था। तेज बहादुर ने बीएसएफ़ से बर्खास्तगी को लेकर दोनों नामांकनों में अलग अलग दावे किए थे। जिसपर जिला निर्वाचन कार्यालय ने तेज बहादुर यादव को नोटिस जारी करते हुए चुनाव आयोग से अनापत्ति प्रमाण पत्र जमा करने का निर्देश दिया था। प्रमाण पत्र जमा ना करने की स्थिति में उनका नामांकन निरस्त कर दिया गया।

Related News
वाराणसी : पाकिस्तान को पटखनी देने वाले इस भारतीय खिलाड़ी को अजय राय ने किया सम्मानित
मिर्जापुर : एसपी ने थाना प्रभारी और चौकी इंचार्ज किया लाइन हाजिर
वाराणसी में पीएम मोदी ने इस कपड़े को खरीदने की गुजारिश की
उत्तर प्रदेश : मायावती को लगा तगड़ा झटका, पांच विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्षों ने दिया इस्तीफा
इस वजह से भाजपा विधायक समेत आठ पर केस दर्ज करने का हुआ आदेश
धनतेरस पर स्वर्णमयी मां अन्नपूर्णा के दर्शन के लिए श्रद्धलुओं की लंबी कतार