पेपेर लीक मामले को लेकर छात्रों ने निकाला जुलूस, सरकार को दी चेतावनी

पेपेर लीक मामले को लेकर छात्रों ने निकाला जुलूस, सरकार को दी चेतावनी

वाराणसी

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में लगातार हो रही घोर अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ सोमवार को वाराणसी में छात्र और नौजवान दलीय बन्धन तोड़ सरकार के लचर रवैये के खिलाफ एकजुट होकर विभिन्न विश्वविद्यालयों के छात्र एवं विभिन्न दलों के नौजवान भारत माता मन्दिर से शहीद उद्यान सिगरा तक आक्रोश में मशाल जुलूस निकाले। 

मशाल जुलूस निकालने से पहले भारत माता मन्दिर में भारत माता को नमन करते हुये अन्याय एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष के पर्याय महान समाजवादी एवं मजदूर नेता पूर्व रक्षा मन्त्री स्व. जार्ज फर्नांडीज की जयन्ती पर उन्हें नमन कर उनको सच्ची श्रद्धांजलि देने हेतु युवाओं के भविष्य पर आये संकट के खिलाफ निकले मशाल जुलूस को समर्पित करते हुये उत्तर प्रदेश सरकार को आगाह किया गया कि आयोग में व्याप्त भ्रष्टाचार में संलिप्त सभी दोषियों पर कठोर कार्यवाही करते हुये छात्रों एवं युवाओं के भविष्य से जुड़ी परीक्षाओं को पूर्णतया पारदर्शी बनाकर अविलम्ब परीक्षाओं को संचालित नहीं किया गया तो पूरे प्रदेश में व्यापक अन्दोलन करेंगे।  

उत्तर  प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) में व्याप्त भ्रष्टाचार का उजागर जो पिछले दिनों परीक्षा नियंत्रक अंजुलता कटियार और प्रिंटिंग प्रेस मालिक कौशिक कुमार के साठगांठ से सामने आया उससे सरकार के क्रिया कलाप पर सवाल उठा है जो पूर्व में भी देखने को मिला है। योगी आदित्यनाथ सरकार के दो वर्ष के कार्यकाल में वैसे भी एल टी ग्रेड ,अवर अभियंता, समीक्षा अधिकारी, पीसीएस परीक्षाओ का अंतिम परिणाम या यू कहे किसी भी प्रतियोगी परीक्षा का परिणाम नहीं आया। 

उपरोक्त भ्रष्टाचार  की घटना सामने आ जाने पर प्रदेश सरकार ने अगले वर्ष तक सारी परीक्षाओ को टाल दिया है। ऐसे में प्रतियोगी छात्र-छात्राओं का भविष्य अंधकारमय हो गया है।

जहाँ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उक्त घटना में एस आई टी की जाँच की बात कहकर सांत्वना देने का कार्य किया तो वही सवाल उठता है कि पूर्व सरकार में हुए नियुक्तियो के मामले में सीबीआई जाँच के द्वारा कारवाई की बात अब कमजोर हो चुकी है जहाँ ईमानदारी से जाँच कर रहे अधिकारी राजीव रंजन को हटा दिया गया ऐसे माहौल में लगता है इस जाँच का हाल भी वही होना है।

ऐसे में प्रतियोगी छात्र-छात्राओं का की मांग है कि संविधान के अनुच्छेद 315 के तहत उ प्र लोकसेवा आयोग को संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के अधीन करा दे जिससे घोषित कैलेण्डर के तहत परीक्षाए हो और परीक्षार्थियो का भविष्य सुरक्षित बने। मशाल जुलूस से पहले हुई सभा मे वक्ताओं ने कहा कि उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में भ्रष्टाचार के मामले पर प्रदेश भर में छात्रों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। 

वाराणसी से लेकर प्रयागराज तक प्रतियोगी छात्र व विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों में पढ़ने वाले  छात्र लगातार सड़को पर आंदोलित हैं, कल जहां प्रयागराज में छात्रों का एक समूह लोक सेवा आयोग भवन के सामने विरोधस्वरूप जूता पालिस करते हुए पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिए गए तो दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में भी छात्रों का गुस्सा सातवें आसमान पर है। मोदी सरकार ने आयोग की निष्पक्ष सीबीआई जांच की बात कही थी, प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद सीबीआई जांच के नाम पर लीपापोती शुरू हो गयी, सीबीआई जांच में जब बीजेपी के नेता फंसने लगे तो सीबीआई के जांच अधिकारी आईपीएस राजीव रंजन का तबादला नार्थ ईस्ट प्रदेश में करा दिया।'

सभा के बाद छात्रों ने भारत माता मंदिर से शहीद उद्यान सिगरा तक मशाल जुलूस निकाला, अपने हांथो में मशाल लिए हुए छात्र  सरकार व बीजेपी के विरुद्ध नारेबाजी कर रहे थे, योगी सरकार मुर्दाबाद, यूपी पीएससी की एसआईटी जांच कराओ, रोजगार पर हमला नहीं सहेंगे, पचास लाख में एसडीएम नहीं सहेंगे, चालीस लाख में डिप्टी एसपी नहीं सहेंगे, योगी मोदी हाय हाय, बाबा जी हाय हाय जैसे नारे लगा रहे थे। कुछ छात्र हांथो में तख्तियां लिए हुए थे जिस पर सरकार विरोधी नारे लिखे हुए थे, योगी मोदी शर्म करो। 

मशाल जुलूस में प्रमुख रूप से विनय शंकर राय "मुन्ना", संजीव सिंह, विकास सिंह, जागृति राही, नीरज सिंह, डॉ अनूप श्रमिक , धनञ्जय , रामायण पटेल , प्रिन्स सिंह राजपूत, अनुराग पांडेय 'छोटू' , अवन्तिका, शुभम , युवराज, मु0 आदिल, निर्भय, रजत, दीपक, शाश्वत,  शैलेन्द्र शीलू , डॉ साकेत शुक्ला, रोहन, आदित्य, गोलू, मनीष , अप्पू, प्रदीप यादव दिलीप मिश्रा, विकास आनंद सहित सैकड़ो छात्र एवं नौजवान शामिल थे ।

Related News
वाराणसी : दर्दनाक हादसे में बीस वर्षीय युवक की मौत
वाराणसी : महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के गांधी में इस मुद्दे पर आयोजित हुई संगोष्ठी
वाराणसी : इस वजह से मुस्लिमों ने बीजेपी से जोड़ा नाता
वाराणसी : कैंट और चौबेपुर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, शातिर अपराधियों को किया गिरफ्तार
वाराणसी : नाबालिग बच्चों से साफ कराया गया थाने में जमा कीचड़, फोटो वायरल
वाराणसी : आईआईटी बीएचयू में जल्द ही शुरू किया जाएगा यह प्रोग्राम