मोदी सरकार ने फिर अधिकारियों को किया जबरन रिटायर, सीबीआइसी के कमिश्नर रैंक भी शामिल

मोदी सरकार ने फिर अधिकारियों को किया जबरन रिटायर, सीबीआइसी के कमिश्नर रैंक भी शामिल

नई दिल्ली 

नरेंद्र मोदी सरकार ने मंगलवार, यानी 18 जून को एक बार फिर सरकार ने वित्त मंत्रालय के 15 सीनियर अफसरों को जबरन रिटायर करने का निर्णय लिया। इनमें से ज्यादातर के ख‍िलाफ भ्रष्टाचार, घूसखोरी के आरोप हैं, जिनमें मुख्य आयुक्त, आयुक्त और अतिरिक्त आयुक्त स्तर के अधिकारी शामिल हैं। बता दें कि इससे पहले भी मोदी सरकार ने एक दर्जन से अधिक अधिकारियों को रिटायर किया था। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अधिकारियों को नियम 56 जे के तहत रिटायर किया गया था। इनमें 1985 बैच के आईआरएस अशोक अग्रवाल का नाम सबसे ऊपर है। आयकर विभाग में ज्वाइंट कमिश्नर रैंक के अफसर अग्रवाल ईडी के संयुक्त निदेशक रहे हैं और भ्रष्टाचार के आरोप में 1999 से 2014 के बीच निलंबित रहे हैं। इन पर कारोबारियों से वसूलीव तांत्रिक चंद्रास्वामी की मदद का आरोप रहा है।


Related News
ट्रेन में गैस सिलेंडर पर खाना बना रहे थे दो यात्री, विस्फोट से 65 लोगों की मौत
आखिर क्यों 17 साल की ये लड़की एक दिन के लिए बनाई गई पुलिस कमिश्नर
अमेरिकी सेना ने बगदादी के उत्तराधिकारी को भी किया ढेर : डोनाल्ड ट्रंप
कश्मीर में पाँच मजदूरों की दर्दनाक हत्या
आखिर क्यों ओवैसी ने कहा, गैरों पर करम अपनों पर सितम
दिवाली के पटाखों से धुआं-धुआं दिल्ली, वायु गुणवत्ता हुई ‘बहुत खराब’