वाराणसी : ऐसे निभा सकते हैं गौ-पालकों का साथ

वाराणसी : ऐसे निभा सकते हैं गौ-पालकों का साथ

वाराणसी 

बनारस शहर से गाय भैंसो का ऊंचे जुर्माने पर चालान किया जा रहा है। मवेशी रखने वाले लोगो को शहर से  पूरी तरह से बाहर करके ग्रामीण क्षेत्र में जाने को मजबूर किया जा रहा है। बनारस शहर दूध के व्यापक रोजगार से जुड़ा हुआ है यहाँ मलाई,रबड़ी,दूध घी,मिठाई का बड़ा कारोबार है। 

खोवा मंडी से बनारस ही नहीं आस पास के जिलों तक को सेवा दी जाती है। शिव मंदिरों में दुग्धभिषेकों से लगायत पूजा पाठ के सब तरह के कार्यो में दूध और उससे बनी चीजो की जरूरत होती है।

सनातनी परम्परा के घरो में आज भी गोबर से जमीन लीपने के संस्कार दिनचर्या में हैं। सरकार भैंस,गाय को शहर से बाहर करके शहर की जीवन शैली प्लास्टिक थैले में बिक्री हो रहे दूध पर आश्रित करना चाहती है। इन गोपालको का रोजगार जाएगा और हजारो परिवार गरीबी के शिकंजे में फंसने वाले है।

इस आपात मुद्दे पर प्रभावित गोपालकों की एक बैठक रखी गयी है। यह बैठक रामकुण्ड अखाङा लक्सा में आज (शुक्रवार) दोपहर दो बजे रखी है। आप भी बैठक में हिस्सा लेकर गौपोलकों का साथ निभा सकते हैं। 

Related News
वाराणसी : गोली मारकर युवती की हत्या, इस होटल का मालिक हुआ गिरफ्तार
सोनभद्र में हुए नरसंहार और बर्बर उत्पीड़न के ख़िलाफ़ बीएचयू गेट पर जोरदार प्रदर्शन
दूसरे दिन भी प्रियंका अपने जिद पर कायम, बोली- उनसे मिलने का मेरा निर्णय अडिग
हिरासत में लिए जाने के बाद भी जिद पर अड़ी प्रियंका गांधी, कहा- सोनभद्र के पीड़ितों से मिले बिना नहीं जाऊंगी
अतीक अहमद पर चला सीबीआई का चाबुक, करीबी हुआ गिरफ्तार
सोनभद्र जा रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने लिया हिरासत में, बोलीं- पता नहीं मुझे कहां ले जा रहे हैं