वाराणसी : गुरु पूर्णिमा पर आश्रमों, मंदिरों,अघोरपीठ में गुरु दर्शन को उमड़ी भक्तों की भीड़

वाराणसी : गुरु पूर्णिमा पर आश्रमों, मंदिरों,अघोरपीठ में गुरु दर्शन को उमड़ी भक्तों की भीड़

वाराणसी

आषाढ़ मॉस की पूर्णिमा को वेदो व्यास जी के धरती अवतरण दिवस पर गुरुपूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है। वाराणसी जिले के गढ़वा घाट आश्रम, कीनाराम अघोरपीठ,पड़ाव आश्रम, बटुक भैरव मंदिर के महंत जितेंद्र मोहन पूरी के यहां गुरु पूजन शुरू हो गया हैं।

महंत जितेंद्र मोहन पूरी ने बताया कि रात 1.31मिंनट पर चंद्र ग्रहण का स्पर्श काल लगेगा।2.59 बजे पूर्ण ग्रहण 4.30 मोक्ष काल लगेगा। सावन का भोर होने से उसके बाद स्नान से अनन्य फल की प्राप्ति होती है।

बटुक भैरव मंदिर के महंत जीतेन्द्र मोहन पूरी ने बताया गुरु आज अपने शिष्यों को स्पर्श करते ही पॉजिटिव एनर्जी देता है। गुरु ही धरती पर शिष्य के कर्मों को सत पथ पर लेकर जाता है। आज के दिन गुरु के चरण छूने से कई जन्मों के पुण्य की प्राप्ति होती हैं।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होने कहा कि अवधूत भगवान राम कुष्ठ सेवा आश्रम पड़ाव पर गुरुपद संभव राम जी, कीनाराम अघोरपीठ के गुरुपद सिद्धार्थ गौतम राम जी, सतुआ बाबा आश्रम के महामंडलेश्वर संतोष दास का दर्शन करने भक्त पहुँच रहे है। उन्होने कहा कि बिना गुरु ज्ञान के इंसान पशु के समान है।

Related News
सरदार पटेल को लेकर पीएम मोदी ने कह दी यह बात
हर युवा को पढ़ना चाहिए अब्दुल कलाम के ये विचार
आज है देश के सबसे चहेते राष्ट्रपति का जन्मदिन, पढ़ाते हुए गई थी जान
दशहरा के मौके पर दोस्‍तों और परिजनों को ये संदेश भेजकर दें बधाई
आज है विजयादशमी, इन कामों को करने से मिलता है शुभ फल
उत्तर प्रदेश : तेजस एक्सप्रेस में बुकिंग शुरू, इस दिन से कर सकेंगे सफर