अयोध्या विवाद : सुप्रीम कोर्ट का सवाल- राम का जन्मस्थान कहां?, ये रहा वकील का जवाब

अयोध्या विवाद : सुप्रीम कोर्ट का सवाल- राम का जन्मस्थान कहां?, ये रहा वकील का जवाब

नई दिल्ली 

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ में पांचवें दिन की सुनवाई जारी है. सबसे पहले रामलला विराजमान की ओर से पेश वरिष्ठ वकील के परासरन ने अपनी बहस पूरी करते हुए कहा कि पूर्ण न्याय करना सुप्रीम कोर्ट के विशिष्ट क्षेत्राधिकार में आता है। 

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि रामलला का जन्मस्थान कहां है? जिसपर रामलला के वकील वैद्यनाथन ने कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बाबरी मस्जिद के मुख्य गुंबद के नीचे वाले स्थान को भगवान राम का जन्मस्थान माना है। वकील ने कहा कि मुस्लिम पक्ष की तरफ से विवादित स्थल पर उनका मालिकाना हक साबित नहीं किया गया था। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि हिंदू जब भी पूजा करने की खुली छूट मांगते हैं तो विवाद होना शुरू होता है। 

इससे पहले सुनवाई के दौरान  रामलला की तरफ से वरिष्ठ वकील वैद्यनाथन ने कहा कि 72 साल के मोहम्मद हाशिम ने गवाही में कहा था कि हिंदुओं के लिए अयोध्या उतना ही महत्व रखता है, जितना मुसलमानों के लिए मक्का। 

इस मामले की सुनवाई सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5 सदस्यीय संवैधानिक पीठ कर रही है। इस पीठ में जस्टिस एस. ए. बोबडे, जस्टिस डी. वाई. चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस. ए. नजीर भी शामिल हैं। 

Related News
बीजेपी विधायक का विवादित बयान, कहा- मुख्यमंत्री बनने के लिए मायावती को अगला जन्म लेना होगा
उत्तर प्रदेश : अब हवाई चप्पल वाले भी कर सकेंगे हवाई यात्रा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
इस वजह से मुलायम सिंह यादव से मिलने पहुंचे योगी आदित्यनाथ
चुनावी परिणामों के बाद अखिलेश यादव का फूटा गुस्सा, कह दी यह बड़ी बात
उत्तर प्रदेश : मायावती के सामने है ये बड़ी चुनौती, हो सकती है मुसीबत
मायावती का भाजपा पर हमला, कहा- जनता की समस्या की परवाह नहीं कर रही सरकार