ये है हरतालिका तीज व्रत का महत्व

ये है हरतालिका तीज व्रत का महत्व

पति की लंबी आयु के लिए सौभाग्यवती स्त्रियां और अविवाहित युवतियां मन मुताबिक वर पाने के लिए हरतालिका तीज का व्रत रखती हैं। सबसे पहले इस व्रत को माता पार्वती ने भगवान शिव के लिए रखा था। इस व्रत में भगवान शिव-पार्वती के विवाह की कथा सुनी जाती है। 

यह व्रत पति के आयुष्य एवं सौभाग्य वृद्धि के साथ ही साथ अनेकानेक अन्य शुभताओं को प्रदान करने वाला है। सौभाग्यवती स्त्रियाँ अपने सुहाग की लम्बी आयु की कामना से हरितालिका तृतीया यानी तीज व्रत करती हैं। इसमें महिलाएँ अन्न, जल ग्रहण किये बिना पूरे श्रद्धापूर्वक यह व्रत रखती हैं । पुराणों के अनुसार इस व्रत को देवी पार्वती ने किया था, जिसके फलस्वरूप उन्हें भगवान शंकर की प्राप्ति हुई थी।

Related News
गोवर्धन पूजा पर अपने दोस्तों को ऐसे करें विश
जानें गोवर्धन पूजा का क्या है शुभ मुहूर्त?
शरद पूर्णिमा के दिन इस काम को करने से बढ़ती है आँखों की रौशनी
वाराणसी : शरद पूर्णिमा आज, गंगा तट पर उमड़ा श्रद्धालुओं का रेला
मन की शांति के लिए ऐसे करें पूजा
आज है नवरात्र का अंतिम दिन, इस दिन की जाती है देवी सिद्धिदात्री की पूजा